19

June 2021
नेशनल न्यूज़

2020 में करीब 8,700 लोगों की रेल पटरियों पर जान गई, ज्यादातर प्रवासी मजदूर मरे

June 03, 2021 03:27 PM

-रेलवे बोर्ड ने ये आंकड़े मप्र के चंद्रशेखर गौर द्वारा आरटीआई के तहत पूछे गए प्रश्न के उत्तर में दिए
नई दिल्ली। पिछले साल लगे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन में यात्री ट्रेन सेवाओं में भारी कटौती के बावजूद 2020 में करीब 8,700 लोगों की रेलवे पटरियों पर कुचले जाने से मौत हो गई थी। मृतकों में से अधिकतर प्रवासी मजदूर थे। रेलवे बोर्ड ने ऐसी मौतों के आंकड़े मध्य प्रदेश के कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौर द्वारा सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में साझा किए हैं। रेलवे बोर्ड ने कहा, राज्य पुलिस से प्राप्त सूचना के आधार पर 805 लोग घायल हुए और 8,733 लोगों की जनवरी 2020 से दिसंबर 2020 के बीच रेल पटरियों पर मौत हुई।
एक अधिकारी ने कहा, नजदूरों ने यह भी माना कि लॉकडाउन की वजह से कोई भी ट्रेन नहीं चल रही होगी। पिछले साल ट्रेनों द्वारा कुचले जाने से हुई मौतें उससे पहले के चार वर्षों की तुलना में भले ही कम हों लेकिन ये संख्या तब भी काफी बड़ी है क्योंकि 25 मार्च को कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉकडाउन की घोषणा के बाद से यात्री रेलगाड़ी सेवाएं प्रतिबंधित थीं। लॉकडाउन के दौरान केवल मालवाहक रेलगाड़ियों का परिचालन हो रहा था और बाद में रेलवे ने प्रवासी मजदूरों को लाने-ले जाने के लिए एक मई से श्रमिक विशेष रेलगाड़ियां चलाई थीं। दिसंबर तक करीब 1,100 विशेष रेलगाड़ियों का परिचालन किया जा रहा था। साथ ही 110 नियमित यात्री ट्रेनें भी चल रहीं थी। कोविड से पहले की अवधि में चलने वाली 70 प्रतिशत रेलगाड़ी सेवाएं अब बहाल कर दी गई हैं।

Have something to say? Post your comment
और नेशनल न्यूज़
ताजा न्यूज़
गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर इंडिया के एमडी को भेजा नोटिस अमरनाथ यात्रा पर संशय बरकरार पर तैयारियां शुरू ट्रंप ने कहा- कोरोना के कारण भारत हुआ तबाह, चीन दे हर्जाना कनाडा में फिर निशाने पर मुसलमान आलिया ने बॉयफ्रेंड से ‎किया जीवन भर प्यार करने का वादा सैमसंग कल लांच करेगी दो नए टेबलेट्स बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में फिर शुरु होगी कार रेसिंग बाबा रामदेव के खिलाफ मलोट में केस दर्ज, डॉक्टरों का गुस्सा नहीं हुआ शांत आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फ़ाइनल के लिए भारतीय टीम घोषित कानूनी छूट खत्म होने के बाद ट्विटर पर FIR दर्ज करने वाला पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश कोरोना के डेल्टा वैरिएंट ने बढ़ाई दुनिया की परेशानी गुजरात में आज से “लव जिहाद” पर कानून लागू, 7 साल तक की सजा का प्रावधान
Copyright © 2016 adhuniktimes.com All rights reserved. Terms & Conditions Privacy Policy